उत्तर प्रदेश शिक्षा मित्र सत्याग्रह धरना और समायोजन की ताजा खबर

उत्तर प्रदेश शिक्षा मित्र सत्याग्रह धरना और समायोजन की ताजा खबर- सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के बाद सहायक अध्यापक से हाथ धोने के बाद शिक्षामित्रों लगातार धरना प्रदर्शन  कर रहे हैं।  पिछले पांच दिन से लगातार उत्तर. प्रदेश  के प्रत्येक शहर के सहायक अध्यापक(शिक्षामित्र) सैंकड़ों की संख्या में धरना- प्रदर्शन कर अपना रोष प्रकृट कर रहे हैं। जिसके चलते प्रदेश  सरकार के माथे पर सिकन आना स्वावभिक है। लगातार धरना- प्रदर्शन  के चलते बच्चों की शिक्षा प्रभावित हो रही है।

समायोजन रद्द किए जाने के विरोध में, शिक्षण कार्य का बहिष्कार

समायोजन रद्द किए जाने के विरोध में शिक्षामित्रों का आदांलन पिछले कई दिनों से लगातार जारी है। शिक्षण कार्य का बहिष्कार कर सैकड़ों की संख्या में इकट्ठे होकर शिक्षामित्र कलेक्ट्रेट पहुंच कर अपना विरोध प्रकट कर रहे हैं। प्रदेश  में कई स्थानों पर तो शिक्षामित्रों का आंदोलन अनिष्चितकालीन धरना शुरू हो गया है। शिक्षामित्रों का आंदोलन संयुक्त समायेाजित शिक्षक एसोसिएशन के बैनर तले चल रहा है। इसमें सभी शिक्षामित्र संगठन शामिल हैं।

समायोजन रद्द किए जाने पर जारी है शिक्षामित्रों का आंदोलन,
समायोजन रद्द किए जाने पर जारी है शिक्षामित्रों का आंदोलन,

समायोजन रद्द किए जाने पर जारी है शिक्षामित्रों का आंदोलन, तालाबंदी कर करेंगे आंदोलन उग्र

आंदोलन में शिक्षा मित्रों का संगठन समायोजन रद्द किए जाने के फैसले के खिलाफ प्रदेश सरकार से पुर्नविचार याचिका दाखिल करने की मांग कर रहे हैं। इस आंदोलन में गौरी बाजार, भटनी, सलेमपुर, लार, बरहज, पथरेदवा, रूद्रपुर, रामपुर, कारखाना सहित मउ, कन्नौज, आजमगढ़, जौनपुर, बलिया, चंदौली, गाजीपुर , मिर्जापुर, सोनभद्र, भदौही आदि में शिक्षा मित्रों का रोष देखने को मिल रहा है। अपने आक्रोश  में शिक्षामित्र संगठन प्रदेश सरकार पर आरोप लगा रहे हैं कि सरकार जानबूझ कर शिक्षामित्रों के साथ अन्याय कर रही है। विरोध प्रकट करते हुए शिक्षामित्र बीएसए कार्यालय पर प्रदर्शन  के बाद बीएसए कार्यालय पर झाडू लगाकर विरोध प्रकट किया।

आंदोलन में बेहोश हुई महिला शिक्षामित्र

इस दौरान शिक्षामित्र कलेक्ट्रेट पर धरने पर भी बैठे, जिसके चलते प्रशासन ने कलेक्ट्रेट में पुलिस मुस्तैद भी कर दी है। बता दें कि, षुक्रवार 18 अगस्त 2017 को कन्नौज में तो समायोजित शिक्षा मित्र भूख हड़ताल पर बैठ गए। इस दौरान बीएसए कार्यालय पर प्रदर्शन कर नारेबाजी भी की गई। इस दौरान एक महिला शिक्षामित्र, जिसका नाम अनीता तिवारी बताया जा रहा है, बेहोष होकर गिर पड़ी। जिस पर आक्रोशित प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष शुशील  यादव ने तालाबंदी की धमकी देते हुए विद्यालयों को बंद कर विरोध प्रकट करने की बात कहीं।

पैदल मार्च निकाल कर मुख्यमंत्री को संबोधित जिलाधिकारी को  ज्ञापन

समायोजन न होने तक शिक्षा मित्र किसी भी कीमत पर पीछे नहीं हटना चाहते, यहीं कारण हैं कि धीरे-धीरे यह आंदोलन उग्र रूप लेता जा रहा है। जिसके चलते सत्याग्रह आंदोलन में शनिवार 19 अगस्त 2017 को पैदल मार्च निकाल कर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा जाएगा। विरोध प्रकट करते हुए समायोजन की मांग को लेकर शिक्षामित्रों का आंदोलन लगातार जारी है। पूर्वांचल के अलग-अलग जिलों में कहीं भगवा वस्त्र में भी धरना दिया गया तो कहीं सत्याग्रह जुलूस तो कहीं तिरंगा यात्रा भी निकाली गई।

Leave a Comment